प्राचीन भारत के महान साम्राज्य 

चंद्रगुप्त मौर्य को मौर्य वंश संस्थापक माना जाता है । उनकी माता का नाम मुर था | इसलिए उन्हें संस्कृत में मौर्य कहा जाता था | इसीलिए उनके वंश को मौर्य वंश कहा जाता था ।

भारतीय चित्रकला का दार्शनिक आधार क्या है ?

कला ने नृत्य में थिरकन ,आवाज़ में सम्मोहन , रेखाओं में प्रवाह का लावण्य और रंगों को बोल उठने की क्षमता प्रदान की है |

मनुष्य के ऊपर होते हैं ये पांच ऋण ,नहीं चुकाया तो होगा पितृदोष 

हमारे ऊपर मुख्य रूप से 5 ऋण होते हैं जिनका कर्म न करने(ऋण न चुकाने…

मुल्तानी मिट्टी से बनायें सुन्दर, चमकीले और घने बाल

क्या आप सभी यह बात जानते है कि मुल्तानी मिट्टी कितनी गुणकारी होती है? यह…

कौन है ए॰ पी॰ जे॰ अब्दुल कलाम ?

अबुल पाकिर जैनुलअब्दीन अब्दुल कलाम को मिसाइल मैन और जनता के राष्ट्रपति के नाम से जाना जाता है | भारतीय गणतंत्र के ग्यारहवें निर्वाचित राष्ट्रपति थे।

पितृ दोष के लक्षण और क्या है निवारण ?

पितृ गण हमारे पूर्वज हैं जिनका ऋण हमारे ऊपर है | क्योंकि उन्होंने कोई ना कोई उपकार हमारे जीवन के लिए किया है | मनुष्य लोक से ऊपर पितृ लोक है | पितृ लोक के ऊपर सूर्य लोक है

फ्रेस्को तकनीक क्या है?

फ्रेस्को म्यूरल पेंटिंग की एक तकनीक है जिसे ताजा रूप से बिछाए गए या गीले चूने के प्लास्टर पर निष्पादित किया जाता है।

भारत की प्रमुख 21 महान  नारियां

आर्यों की सभ्यता और संस्कृति के प्रारम्भिक काल में महिलाओं की स्थिति बहुत सुदृढ़ थी। ऋग्वेद काल में स्त्रियां उस समय की सर्वोच्च शिक्षा अर्थात् बृह्मज्ञान प्राप्त कर सकतीं थीं।

सिंधु घाटी सभ्यता की सम्पूर्ण जानकारी 

सिन्धु घाटी सभ्यता विश्व की प्राचीन नदी घाटी सभ्यताओं में से एक प्रमुख सभ्यता है। | यह हड़प्पा सभ्यता के नाम से भी जानी जाती है।

बंगाल का पुनः जागरण और उत्थान

भारत में कुछ काल तक मुग़ल और राजस्थानी शैलियाँ रहीं जो 18 सदी तक समाप्त…

भगवान् श्री कृष्ण का अवतरण एवं महाप्रयाण

कृष्ण का जन्म भाद्रपद मास में कृष्ण पक्ष में अष्टमी तिथि, रोहिणी नक्षत्र के दिन रात्री के १२ बजे हुआ था । कृष्ण का जन्मदिन जन्माष्टमी के नाम से भारत, नेपाल, अमेरिका सहित विश्वभर में मनाया जाता है।

श्रीकृष्ण भगवान के नाम का अर्थ क्या है ?

“कृष्ण” मूलतः एक संस्कृत शब्द है, जो “काला”, “अंधेरा” या “गहरा नीला” का समानार्थी है। “अंधकार” शब्द से इसका सम्बन्ध ढलते चंद्रमा के समय को कृष्ण पक्ष कहे जाने में भी स्पष्ट झलकता है।

जानिये ,गोस्वामी तुलसीदास का प्रेरणास्पद व्यक्तित्व

गोस्वामी तुलसीदास (1511 – 1623) हिन्दी साहित्य के महान सन्त कवि थे। रामचरितमानस इनका गौरव ग्रन्थ है। इन्हें आदि काव्य रामायण के रचयिता महर्षि वाल्मीकि का अवतार भी माना जाता है।

51 शक्ति पीठ कौन कौन से हैं ?

हिन्दू धर्म के अनुसार जहां सती देवी के शरीर के अंग गिरे, वहां वहां शक्ति पीठ बन गईं। ये अत्यंत पावन तीर्थ कहलाये।

मंदिर की प्राचीनता के प्रमाण क्या हैं?

वैदिक काल में ही चार धाम और दुनियाभर में ज्योतिर्लिंगों की स्थापना के साथ ही प्रार्थना करने के लिए भव्य मंदिरों का निर्माण किया गया। समय-समय पर इनका स्वरूप बदलता रहा और कर्मकांड भी।

जानिए ,हिन्दू मंदिरों की पूरी जानकारी

भारतीय संस्कृति में मंदिर निर्माण के पीछे यह सत्य छुपा था कि ऐसा धर्म स्थापित हो जो जनता को सहजता व व्यवहारिकता से प्राप्त हो सके।

भीमबेटका की पूरी जानकारी

भीमबेटका की गुफा मध्य प्रदेश भोपाल के दक्षिण-पूर्व में 45 किलोमीटर और मध्य प्रदेश के रायसेन जिले में ओबेदुल्लागंज शहर से 9 किलोमीटर की दूरी पर विंध्य पहाड़ियों के दक्षिणी किनारे पर स्थित है।

क्या है मंडाला आर्ट ?

ये कला बहुत ही पुरानी है और सदियों से लोग मंडला बनाते आए  हैं। मंडला शब्द संस्कृत से लिया गया है और इसका अर्थ है “चक्र” और यह एक  डिजाइन या पैटर्न है ।

क्या हैं संस्कृत भाषा की विशेषता ?

आप कोई भी विषय पढ़िए जो आपकी अभिरुचि,चाहत और प्रतिभा-क्षमता के अनुकूल हो।आप कोईभीजीविका चुनिए…

सनातन भारत की प्रकाण्ड महिलाओं के क्या नाम हैं ?

वैदिक काल भारतीय संस्कृति मे प्राचीन वैदिक काल से ही नारी का स्थान सम्माननीय रहा है |

एकाग्रता बढाने के सरल उपाय

एकाग्रता को सामान्य रूप से हम इस प्रकार समझ सकते हैं कि “अपने उद्देश्य अथवा लक्ष्य की प्राप्ति के लिए अन्य बातों पर ध्यान न लगाते ह्युए निर्धारित लक्ष्य की प्राप्ति तक प्रयास करना ही एकाग्रता है”|

क्या होता है ? स्वच्छ वस्त्रों का प्रभाव

जिस प्रकार स्नान करने के उपरान्त शरीर के त्वचा रंध्र खुल जाने से और घर्षण से एक प्रकार की स्फूर्ति प्राप्त होती है | उसी प्रकार स्वच्छ और नवीन वस्त्रों को धारण करने से मनुष्य की आत्मा को प्रसन्नता प्राप्त होती है |

कैसे रखें अपनी आंखों का ख्याल

आँखें सिर्फ देखने भर के लिए नहीं है। आँखों से दिल , दिमाग , शरीर सब कुछ जुडा होता है।  ख़ुशी , गम , डर ,आश्चर्य , शक , आदि भावनाएं आँखें दर्शा देती ,आँखों से दिल में उतरना सभी ने सुना होगा और ये सच भी है। ये हमारे आत्म विश्वास का आइना है।

आंखों की खूबसूरती के लिए आजमाए ये 10 टिप्स

दुनिया की तमाम रंगीनियां, रौनक और खूबसूरती तभी तक है, जब तक कि ये आंखें सलामत हैं, इसलिए आंखों को स्वास्थ्य और सौंदर्य का आईना माना गया है।

आकर्षक स्तन पाने के सरल व्यायाम क्या हैं ?

सुडौल व उन्नत वक्ष आपके सौन्दर्य में चार-चाँद लगा सकते है. इस बात में कोई दोराय नहीं है कि सुन्दर एवम् सुडौल वक्ष प्रकृति की देन है |

स्तनों के संतुलित विकास के लिए टिप्स

स्त्री सौंदर्य में ब्रेस्ट यानि स्तनों का विशेष महत्व है। सुंदर नारी भी उन्नत स्तनों के अभाव में सुंदर नहीं कही जा सकती। उन्नत स्तनों वाली स्त्री विशेष रूप से आकर्षक दिखती है।

अविकसित वक्ष होने के कारण ,करें ये उपाय

सामान्य तौर पर लड़कियों में 12 से 14 वर्ष की आयु तक उनके वक्षस्थल पर उभार आना शुरू हो जाता है और वृद्धि की यह प्रक्रिया 14 से 18 वर्ष तक की आयु के दौरान निरंतर होती रहती है।

प्यार की परिभाषा क्या है ?

“प्यार” शब्द ऐसा शब्द है जिसका नाम सुनकर ही हमें अच्छा महसूस होने लगता है, प्यार शब्द में वो एहसास है जिसे हम कभी नहीं खोना चाहते।

मेकअप के लिए कौन कौन सी क्रीम प्रयोग की जाती है ?

कौन सी क्रीम कब उपयोग लायी जानी चाहिए। इसकी जानकारी बहुत कम लोगों को होती है इसलिए इस पोस्ट मैं आपको त्वचा के लिए उपयोग की जाने वाली तरह तरह की क्रीम के बारे में संक्षिप्त जानकारी दी गई है ।

Make Up Tips

हर कोई बेदाग़, ख़ूबसूरत और निखार वाला चेहरा पाना चाहता है।चेहरे को ख़ूबसूरत बनाने और निखार लाने के उपाय जानेंगे। ख़ूबसूरत चेहरे की चाह है तो प्राकृतिक और घरेलू उपाय करने चाहिए।

मोटापा कम करने का रामबाण उपाय

मोटापा शारीरिक और मानसिक स्तर पर जीवन में कई सारे परिवर्तन लाता है। जिनके कारण व्यक्ति में इसके लक्षण परिलक्षित होते हैं।

सुखी दाम्पत्य जीवन के लिए जरुरी हे ये उपाय

सुखी दाम्पत्य जीवन के लिए जरुरी हे ये विशेषताएं

समय प्रबंधन से व्यक्तित्व विकास के सरल सूत्र

मेरे विचार से समय के सटीक समय प्रबंधन से हम अपना 70 % तक समय बचा सकते है | जोकि प्रायः हम अपनी नादानी से समय प्रबंधन के अभाव में व्यर्थ गँवा देते हैं |

जानिये ! शंख पूजन के लाभ

घर में शंख रखने से होता है धन लाभ, स्वास्थ्य के लिए भी लाभकारी. शंख की आवाज़ नकारात्मक ऊर्जा को खत्म करती है। इसे बजाना स्वास्थ्य के लिए भी उपयोगी बताया गया है।

क्या है श्री राम जन्म भूमि अयोध्या का इतिहास ?

प्रथमअयोद्ध्या नगरी सतयुग में महाराज मनु ने वसायी थी प्रथम –सात मोक्षदायिनी नगरियों में प्रथम…

‘जूस जैकिंग फ्रॉड’क्या होता हे, इससे से कैसे बचे ?

अक्सर लोग स्मार्टफोन को घर से पूरी तरह चार्ज कर निकलते है | लेकिन सार्वजनिक स्थानों जैसे कैफे, ट्रेन , बस स्टेशन ,मेट्रो स्टेशन ,हवाई अड्डे आदि  पर मौजूद यू. एस. बी. चार्जिंग पोर्ट देखते ही अपने फोन या लैपटॉप  को चार्जिंग में लगा देते है |

भारत के प्राचीन आयुर्वेदाचार्य कौन थे ?

धन्वन्तरि एक महान चिकित्सक थे, जिन्हें देव पद प्राप्त हुआ। ये भगवान विष्णु के अवतार समझे जाते हैं। इनका पृथ्वी लोक में अवतरण समुद्र मंथन के समय हुआ था।

भारतीय स्त्रियों की पारम्परिक परिधान साड़ी है

भारतीय स्त्रियों की पारम्परिक परिधान साड़ी है

सोलह श्रृंगार के पीछे छिपे वैज्ञानिक तथ्य क्या हैं ?

सोलह श्रृंगार के पीछे छिपे वैज्ञानिक तथ्य क्या हैं ?

पोशाकें जो अभी फैशन ट्रेंड में है

शादी पार्टियों का मौसम है और हर पार्टी में छा जाने के लिए आपको ट्रेंडके…

त्वचा को कैसे रखें स्वस्थ

            वर्तमान समय में बढ़ाते प्रदूषण और गलत खानपान की वजह से  त्वचा रोग में…

ऐसे बढ़ाएं अपनी रोगप्रतिरोधक क्षमता

आप यदि बार बार मौसमी बीमारियों जैसे सर्दी ,खांसी ,जुकाम  आदि की चपेट में आते…